Breaking »
  • Breaking News Will Appear Here

सुप्रीम कोर्ट जल्द करेगा आवारा कुत्तों की हत्या पर सुनवाई

 Ritu |  17 Nov 2018 9:56 AM GMT

सुप्रीम कोर्ट जल्द करेगा आवारा कुत्तों की हत्या पर सुनवाई

नई दिल्ली। आवारा कुत्तों की सामूहिक हत्या के आरोपों पर कर्नाटक में अवमानना की कार्रवाई की मांग करने वाली याचिका पर उच्चतम न्यायाजलय सुनवाई करने के लिए राजी हो गया हैं। न्यायमूर्ति एन वी रमन और न्यायमूर्ति एम एम शांतनागौदर की पीठ ने नगरपालिका परिषद के मुख्य अधिकारी विल्सन वी टी और ठेकेदार वी जॉर्ज रॉबर्ट को नोटिस जारी किया तथा उनसे चार सप्ताह के भीतर जवाब मांगा हैं।

याचिकाकर्ता पशु अधिकारी कार्यकर्ता नवीन कामत की ओर से पेश हुए वकील सिद्धार्थ गर्ग ने कहा कि न्यायालय के विशिष्ट दिशा निर्देशों की जानबूझकर अवज्ञा करने के लिए दोनों प्रतिवादियों के खिलाफ अवमानना की कार्यवाही की जाए।

18 नवंबर 2015 को शीर्ष न्यायालय ने निर्देश दिया था कि स्थानीय अधिकारियों और पंचायतों को पशु अत्याचार निरोधक (पीसीए) कानून, 1960 और पशु जन्म नियंत्रण (एबीसी) नियम, 2001 का सख्ती से पालन करें तथा अदालत के आदेश को दरकिनार करने के लिए ''तिकड़मबाजी या नया हथकंडा'' किसी भी प्रकार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। पीसीए कानून 1960 और एबीसी नियम, 2001 आवारा कुत्तों को लापरवाही से पकड़ने तथा उनके स्थान परिवर्तन पर रोक लगाता है और उनकी केवल नसबंदी तथा उसी स्थान पर वापस छोड़ने के उद्देश्य से पकड़ने की इजाज़त देता है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top