Breaking »
  • Breaking News Will Appear Here

इथोपियन एयरलाइंस ने मैक्स-8 विमानों के परिचालन पर लगाया अस्थायी प्रतिबंध

 Ritu |  11 March 2019 8:51 AM GMT

इथोपियन एयरलाइंस ने मैक्स-8 विमानों के परिचालन पर लगाया अस्थायी प्रतिबंध

नई दिल्ली। इथोपिया के बिशोफ्तू के पास रविवार को हुई विमान दुर्घटना के बाद इथोपियन एयरलाइंस तथा कुछ अन्य विमान सेवा कंपनियों ने बोइंग मैक्स-8 विमानों के परिचालन पर अस्थायी प्रतिबंध लगा दिया है जबकि भारतीय विमानन नियामक ने भी कहा है कि वह स्थिति पर नजर बनाये हुये है।

इथोपियन एयरलाइंस के बोइंग 737 मैक्स-8 विमान ने रविवार को इथोपिया की राजधानी आदिस अबाबा से केन्या के नैरोबी के लिए उड़ान भरी थी। उड़ान भरने के छह मिनट बाद ही नियंत्रण कक्ष से उसका संपर्क टूट गया और वह दुर्घटना ग्रस्त हो गया। हादसे में चालक दल के आठ सदस्यों समेत विमान में सवार सभी 157 लोगों की मौत हो गयी।

इथोपियन एयरलाइंस ने सोमवार को बताया कि उसने 10 मार्च से ही उसके बेड़े में शामिल सभी मैक्स-8 विमानों की उड़ान अगले निर्णय तक रद्द कर दी है। उसने यह भी स्पष्ट किया है कि हादसे के कारण का अभी पता नहीं चल सका है, लेकिन एहतियात के तौर पर यह फैसला किया गया है।

भारतीय विमानन महानिदेशालय ने भी स्थिति पर नजदीकी नजर रखने की बात कही है। इससे पहले पिछले साल अक्टूबर के अंत में लायन एयर का एक बोइंग मैक्स विमान इंडोनेशिया में दुर्घटनाग्रस्त होने के बाद उसने अतिरिक्त तकनीकी जाँच तथा पायलटों के लिए विशेष प्रशिक्षण के निर्देश जारी किये थे। उस हादसे में चालक दल के सदस्यों सहित कुल 189 लोगों की मृत्यु हो गयी थी। पाँच महीने में दूसरे हादसे के बाद नये सिरे से दिशा-निर्देश जारी किये जा सकते हैं। इस समय देश में जेट एयरवेज तथा स्पाइसजेट के बेड़े में मैक्स विमान हैं।

चीन के विमानन नियामक ने देश की विमान सेवा कंपिनयों को निर्देश जारी कर सभी बोइंग 737 मैक्स-8 विमानों का परिचालन फिलहाल स्थगित कर दिया है। केमैन द्वीप की विमान सेवा कंपनी केमैन एयरवेज ने उसके बेड़े में शामिल दो बोइंग मैक्स विमानों का परिचालन अगले आदेश तक के लिए रोक दिया है।

अमेरिकी विमान निर्माता कंपनी बोइंग ने हादसे पर दु:ख व्यक्त किया है। वह भी इसकी जाँच में शामिल है। कंपनी ने मृतकों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। उल्लेखनीय है कि बोइंग मैक्स विमानों की वाणिज्यिक उड़ान तीन साल पहले शुरू हुई थी। पाँच महीने में दो बड़े विमान हादसों से मैक्स विमानों की विश्वसनीयता पर सवालिया निशान लग गया है।

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top