Breaking »
  • Breaking News Will Appear Here

चुनाव में फिजूल के मुद्दे न उठें: प्रियंका

 Ritu |  2019-03-12T18:49:04+05:30

चुनाव में फिजूल के मुद्दे न उठें: प्रियंका

गांधीनगर। कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने आज कहा कि लोगों को इस बात के लिए जागरूक रहना होगा कि लोकसभा चुनाव के दौरान फिजूल के मुद्दे न उठें। अपने भाई और पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी तथा मां सोनिया गांधी के साथ अहमदाबाद में कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में भाग लेने के बाद पहली बार किसी रैली में एक साथ मंच साझा करते हुए अपने संबोंधन में वाड्रा ने कहा, ' यह देश प्यार से बना है पर आज देश में जो हो रहा है तो मै दिल से आपसे कहना चाहती हूं कि इससे बडी कोई देशभक्ति नहीं कि आप जागरूक बने। यह जागरूकता एक हथियार है और आपका वोट भी हथियार है।

लेकिन यह ऐसा हथियार है जिससे चोट नहीं पहुंचानी। दुख नहीं नुकसान नहीं होता बल्कि ऐसा हथियार है जो आपको मजबूत बनायेगा।' वाड्रा ने कहा, 'आपको गहरायी से सोचना पडेगा कि यह चुनाव क्या है। इसमें फिजूल मुद्दे नहीं उठने चाहिए। आप अपना भविष्य चुनने जा रहे है। आपके लिए महत्वपूर्ण क्या है। लोगों को रोजगार कैसे मिलेगा। महिलाएं कैसे सुरक्षित होंगी और किसानों के लिए क्या हो। ये चुनावी मुद्दे हैं।

आपकी जागरूकता ही आपको आगे ला सकती है। आपसे आग्रह है कि सोच समझ कर निर्णय लें। जो आपके सामने बड़ी बाते बड़े वादे करते हैँ उनसे पूछिये कि जो दो करोड रोजगार का वचन दिया था, वह कहां हैं, उनसे पूछिये कि पंद्रह लाख खाते में आने वाले थे, वह कहां गये। महिलाओं की सुरक्षा की बात करते थे उनको क्या सुरक्षा मिली। किसानों के बारे में सवाल करिये। सही सवाल करिये। आने वाले दो माह में आपके सामने कई मुद्दे उठाये जायेंगे।

पर आपको जागरूकता बनाये रखनी होगी और सही मुद्दों को पहचानना होगा, आपकी देशभक्ति इसी में प्रकट होनी चाहिए।' प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का नाम लिये बिना तथा हाल में अहमदाबाद में उनके एक संबोधन की परोक्ष चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि जो अपनी फितरत की बात करते हैँ उनको बताइये कि इस देश की फितरत क्या है। ज्ञातव्य है कि मोदी ने कहा था कि उनकी फितरत है चुन चुन कर बदला लेने की।

वाड्रा ने कहा, 'सही निर्णय लीजिए, सही मुद्दे उठाइये क्योंकि यह देश आपने बनाया, यह किसान भाईयो बहनों ने, नौजवानों ने बनाया है, यह किसी और ने नहीं बनाया। यह किसी और का नहीं। आप इसकी हिफाजत कर सकते हैं। जहां देखिये वहां नफरत फैलायी जा रही है और हमारे आपके लिए इससे बडी कोई चीज नहीं कि देश की हिफाजत करें और इकट्ठे इसके लिए आगे बढ़े।'

Tags:    

  Similar Posts

Share it
Top